गौशालाओं ,आवारा घूमने वाले पशुओं में फिर लंपी संक्रमण का खतरा, पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर अधिकारी टीकाकरण में बरत रहे घोर लापरवाही

गौशालाओं ,आवारा घूमने वाले पशुओं में फिर लंपी संक्रमण का खतरा, पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर अधिकारी टीकाकरण में बरत रहे घोर लापरवाही

रायसेन।जिले में एक बार फिर लंबी वायरस संक्रमित की तरह तेजी से फैलने लगा है।शहर की सड़कों गलियों चौक चौराहों पर आवारा घूमनेवाले और गौशालाओं के संक्रमित पशु मिलना शुरू हो गए हैं।जिसके चलते पशुओं का टीकाकरण किया जाना अब जरूरी हो गया है। लेकिन जिला पशु चिकित्सा विभाग रायसेन के डॉक्टरों की टीम द्वारा फिलहाल पूरी तरह से लापरवाही बरती जा रही।जिससे पशुओं में यह संक्रमित लँपी वायरस काल का ग्रास बन कर एकदूसरे पशुओंको प्रभावित कर रहा है।

हेल्प लाइन नम्बर पर पशु पालक करें फोन.....

शासन सहित बिटनरी विभाग द्वारा जिले में करोड़ों रुपये का बजट खर्च कर चलित चिकित्सा वाहन जरूरी दवाईयों का भंडारण किया गया है।लेकिन फिर भी लँपी वायरस से पीड़ित पशु समय पर उनको टीकाकरण नहीं कराने के अभाव में सड़क किनारे तड़प तड़प कर दम तोड़ रहे हैं।

हालांकि संक्रमित पशुओं के उपचार के लिये हेल्प लाईन नंबर 1962 पर संपर्क किया जा सकता है।पशुओं में फिर लंपी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है।

नरापुरा पुरानी बस्ती क्षेत्र में श्री कृष्ण गौशाला नन्दन वन बायपास रायसेन के संचालकों द्वारा घोर लापरवाही बरती जा रही है।शाम के वक्त अधिकांश पशुओं को आवारा छोड़ देते हैं।जिससे वह आवारा पशुओं की भांति आम सड़कों गलियों में बैठे रहते हैं।लँपी वायरस उनमें वर्तमान में तेजी से फैलने की वजह से उनकी जान पर खतरा मंडरा रहा है।रहवासियों का कहना है कि लँपी वायरस फैलने से सभी पशुओं के शरीर पर गांठ उभर रही हैं।उनके पैरों के खुरों में सड़ने गलने की समस्या खड़ी हो रही है।उन्होंने कलेक्टर अरविंद दुबे, स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी सहित उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ पीके अग्रवाल से लँपी वायरस से पीड़ित इन पशुओं की जान बचाने के लिए जल्द टीकाकरण अभियान चलाया जाकर पशुओं की मरहम पट्टी कराई जाना चाहिए।वरना पशुओं में यह संक्रामक बीमारी महामारी का रूप ले सकती है।

जिले में लंपी चर्म रोग से कुछ पशु संक्रमित मिलना शुरू हो गए हैं। गौ सेवकों राहुल परमार रवि खत्री ,गोपाल साहू का इस मामले में कहना है कि जिले की गौशालाओं के पशुओं में भी एहतियात बरतने के उद्देश्य से टीकाकरण अभियान जल्द चलाया जाना बेहद अनिवार्य है।कलेक्टर अरविंद दुबे को भी पशुओं की रक्षा के लिए इलाज और टीकाकरण मुहिम चलाई जाना चाहिए।

 संक्रमित और स्‍वस्‍थ पशुओं को किया जाए अलग......

पशु चिकित्सा विभाग रायसेन के उप संचालक प्रमोद कुमार अग्रवाल से गौसेवकों ने स्वस्थ पशुओं में लंपी संक्रमण न फैले इसके लिए संक्रमित पशुओं को अलग और स्वस्थ पशुओं को अलग गोशालाओं में भेजा जाए। गोशालाओं में इन पशुओं के चारे पानी की भी व्यवस्था की जाए । पशुओं को नजदीकी खाली गोशालाओं में शिफ्ट किया जाए।उन्होंने बताया कि रायसेन नगर में स्वस्थ पशुओं को ग्राम मेहगांव ,अमरावद डैम स्थित गोशाला में तथा लंपी संक्रमित पशुओं गोशाला में भेजा जाए।

लंपी वायरस से बचाने के लिए करें यह उपाय....

पशु चिकित्सा विभाग के अनुसार लंपी वायरस मच्छर काटने वाली मक्खी और टिक्स से एक पशु से दूसरे पशुओं में फैलता है। लंपी स्किन डिसीज का संक्रमण मुख्यतः गौवंश में फैलता है। पशुपालकों को इस वायरस से घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।

तहलका न्यूज चैनल रायसेन के लिए जिला ब्यूरो चीफ शिवलाल यादव की स्पेशल रिपोर्ट.....