उत्खनन से पहाड़ों की बदली सूरत:सड़क बनाने वनभूमि, राजस्व भूमि से अवैध तरीके मुरम निकाल रहे तस्कर,पहाड़ों को पोकलेन जेसीबी से तहसनहस कर बना रहे, किसानों की फसल पर संकट के बादल

उत्खनन से पहाड़ों की बदली सूरत:सड़क बनाने वनभूमि, राजस्व भूमि से अवैध तरीके मुरम निकाल रहे तस्कर,पहाड़ों को पोकलेन जेसीबी से तहसनहस कर बना रहे, किसानों की फसल पर संकट के बादल

रायसेन।जिले की तहसील मुख्यालय सिलवानी के आसपास के गांवों, पंचायतों में बन रही पीएम सड़क योजना और पंचायतों की सीमेंट कांक्रीट की सड़कों के निर्माण करने मुरम माफिया गिरोह सक्रिय हैं।जो बेख़ौफ होकर ठेकेदार से लेकर पंचायत सचिवों की भूमिका संदिग्ध नजर आती है।मनमानी और लापरवाही का आलम यह है कि तहसील सिलवानी क्षेत्र के राजस्व की जमीन समेत वनभूमि पर मुरम तस्करों द्वारा सरेआम मशीनों से पहाड़ों और मुरम के टीलों का सीना छलनी कर सूरत को बदल कर रख दिया है।कई जगहों पर पहाड़ों खेत के रास्तों को भी उत्खनन कर तहस नहस कर दिया है।जिससे अन्नदाताओं की खरीफ सीजन की फसलों पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं।

गांवों मंजरे टोलों में बन रहीं डामर की पक्की और सीसी सड़कों के निर्माण में अवैध रूप से मुरम कोपरा भसुआ उत्खनन, पेड़ों की अवैध रूप से कटाई को रोकने में खनिज विभाग का और राजस्व, वन महकमे के अमला पूरी तरह से फेल नजर आ रहे हैं।ताजा उदाहरण सामने है।पीडब्ल्यूडी एसडीओ संभाग सिलवानी द्वारा देवरी हतनापुर रामपुर टोला तक भोपाल के एक ठेकेदार द्वारा पक्की डामर की सड़क का निर्माण कराया जा रहा था।इस दौरान सड़क ठेकेदार के आदेश पर सड़क निर्माण में बाधा बन रहे हरेभरे पेड़ों सागौन पलाश महुआ के सैकड़ों पेड़ों की बलि चढ़ाकर हरियाली और पर्यावरण के दुश्मन बन गए।तब ग्रामीणों ने अवैध पेड़, मुरम खनन की शिकायत जिला खनिज विभाग, वनविभाग के आला अफसरों से की गई।तब वन विभाग के अफसरों द्वारा न अमले को मौके पर भेजकर दो डंपर,1पोकलेन,1 जेसीवी मशीन 2 ट्रैक्टर को जब्त कर ठेकेदार धारा 33के तहत केस दर्ज कर लिया था।

गांव गांव बनाई जा रही सड़कों में न तो कोई रॉयल्टी ली जा रही और ना कोई विभागीय परमीशन।जहां मनमर्जी चाहे सड़क ठेकेदारों सहित पंचायत सचिव सरपंच मिलजुलकर मशीनों से मुरम कोपरा का अवैध उत्खनन कर जमकर कमाई कर रहे हैं।हैरत की बात तो यह है कि यह चोरी की मुरम सड़क सहित अन्य निर्माण विकास कार्यों में परिवहन धड़ल्ले से की जा रही है।आलम यह है कि मुरम तस्कर धड़ल्ले से पहाड़ों मुरम के टीलों खेतों जंगल क्षेत्रों से दिनदहाड़े जेसीबी मशीन से उत्खनन कर आराम से परिवहन करते हुए स्टॉक कर लेते हैं।

पंचायतों की भूमिका संदेह के घेरे में....

जनपद पंचायत सिलवानी के गांव गांव बन रही सड़कों अन्य निर्माण कार्यों में राजस्व, वनभूमि पर हो रहे अवैध मुरम कोपरा उत्खनन में पंचायत सचिव, सरपंचों की भूमिका संदिग्ध बताई जाती है।किसानों की निजी खेतों की आड़ लेकर सरपंच रोजगार सहायक, पंचायत सचिव मशीनों से खेत के टीलों से मुरम कोपरा की खुदाई कर रहे हैं।

इनका कहना है.....

सिलवानी तहसील क्षेत्रों में अवैध रूप से राजस्व, वनभूमि माइनिंग क्षेत्रों में मुरम कोपरा खुदाई परिवहन की लगातार शिकायतें मिल रही हैं।लेकिन अब यह सबकुछ बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।माइनिंग, राजस्व और वनभूमि पर अवैध मुरम भसुआ सहित कोपरा खनन की शिकायतों पर शिकायतें मिलने पर किसी भी सूरत में माफी लायक नहीं होगा।अरविंद दुबे कलेक्टर रायसेन

तहलका न्यूज़ चैनल रायसेन के लिए जिला ब्यूरो चीफ शिवलाल यादव की ग्राउण्ड स्पेशल रिपोर्ट....