एचएफएम डिसीज.... तेज बुखार के साथ मुंह के छालों से जूझ रहे मासूम,खड़ी हुई बच्चों में वायरल फीवर के साथ मुंह में छाले की नई समस्या अभिभावक परेशान

एचएफएम डिसीज.... तेज बुखार के साथ मुंह के छालों से जूझ रहे मासूम,खड़ी हुई बच्चों में वायरल फीवर के साथ मुंह में छाले की नई समस्या अभिभावक परेशान

रायसेन।जिला अस्पताल में इन दिनों तेज बुखार और शरीर में अकड़न-जकड़नके साथ ही नई समस्या बच्चों को काफी परेशान कर रही हैं।इस वजह से अभिभावक बेहद चिंतित व परेशान हैं। जांच रिपोर्ट में बच्चों में (एचएफएमडी)हेंड, फुट ,माउथ डिसीज पाया जा रहा है।जिला अस्पताल सहित प्रायवेट अस्पतालों में इस बीमारी से पीड़ित बच्चों को लेकर उनके अभिभावक इलाज कराने पहुंच रहे हैं।

जिला अस्पताल के शिशु रोग स्पेशलिस्ट डॉ आलोक सिंह राय के मुताबिकपीड़ित बच्चों के मुंह में छाले निकल रहे हैं।हाथ की हथेली और पैर के तलाबों में दाने निकल रहे हैं।इस तरह एचएफएम डिसीज की समस्या से जूझ रहे नौनिहाल।न तो मासूम सही से भोजन खा पा रहे हैं और न पानी गुटक पा रहे हैं।उन्होंने बताया कि बच्चों में वायरल फीवर के साथएचएमएफ डिसीज से पीड़ित बच्चे इन दिनों ओपीडी में भी पहुंच रहे हैं।बच्चे तेज वायरल फीवर,मांस पेशियों में दर्द के साथ ही हाथ की हथेली तलाबों में और मुंह में छालों के दर्द से बच्चे पीड़ित हैं।एक सप्ताह में जिला अस्पताल की ओपीडी के मुताबिक 520 बच्चे मरीज इलाज उनके पालकों के साथ पहुंचे।

एहतियात बरतने के निर्देश.....

शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ आलोक राय ने बताया कि इससे अभिभावक बिल्कुल ना घबराएं।डिसीज का असर लक्षण देखकर डॉक्टरों से चिकित्सकीय परामर्श लें और बच्चों का इलाज अवश्य कराएं।जरूरी एहतियात भी बरतें।इसमें घबराने की कोई बात नहीं है।

7 से 10 दिन में बच्चों को बीमारी से लग रहा आराम.....

शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ राय के अनुसार छोटे बच्चों में वायरल फीवर के साथ हीएचएफएम डिसीज की समस्या सामान्य है।कई बच्चों में वायरल बुखार के अलावा इस तरह की समस्या लक्षण देखे जा रहे हैं।बच्चों के मुंह, हाथ और तलबों के छाले ठीक होने में 7 से 10 दिन लगते हैं।बच्चों को दूध और पानी ज्यादा मात्रा में सेवन कराएं।वहीं अम्लीय पदार्थ कैला या संतरे का रस बिल्कुल नहीं दें ।तो बच्चों की सेहत के लिए बेहतर होगा।

तहलका न्यूज रायसेन के लिए जिला ब्यूरो चीफ शिवलाल यादव की स्पेशल ग्राउंड रिपोर्ट.....