पढ़ाई में आर्थिक परेशानी न हो, इसलिए मेधावी विद्यार्थियों को 9वीं में 75 हजार तो 11वीं में मिलेंगे 1.25 लाख रु.तक

पढ़ाई में आर्थिक परेशानी न हो, इसलिए मेधावी विद्यार्थियों को 9वीं में 75 हजार तो 11वीं में मिलेंगे 1.25 लाख रु.तक

रायसेन।स्कूल के 9वीं के मेधावी विद्यार्थियों को अब सरकार की तरफ से 75 हजार रुपए तो 11वीं के विद्यार्थियों को 1 लाख 25 हजार रुपए तक मिलेंगे। इसका उपयोग विद्यार्थी पढ़ाई के दौरान आने वाली आर्थिक समस्या के निराकरण के लिए कर सकेंगे। इसके लिए विद्यार्थियों को एक परीक्षा देना होगी। इसमें उत्तीर्ण होने वाले पात्र विद्यार्थियों को सरकार योजनानुसार राशि का वितरण करेगी। परीक्षा के लिए की अंतिम तारीख 10 अगस्त है। जिला शिक्षा विभाग के डीईओ एमएल राठौरिया के अनुसार विद्यार्थियों की जिलास्तर पर एक परीक्षा होगी।

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने परीक्षा की तारीख 29 सितंबर तय की ....

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने परीक्षा की तारीख 29 सितंबर 2023 तय की 

है। साथ ही फॉर्म भरने के लिए अब 3 दिन ही बचे हैं। वहीं जिलेभर में सर्वर को लेकर भी दिक्कतें सामने आ रही हैं। परीक्षा में शामिल होने के लिए एनटीए ने कुछ योग्यताएं भी तय की हैं। इनमें आवेदक के ओबीसी, ईबीसी, डीएनटी श्रेणी से संबंध रखने वाला होना चाहिए। आवेदक के माता-पिता की वार्षिक आय 2 लाख 50 हजार से अधिक नहीं होना चाहिए।

परीक्षा पद्धति : परीक्षा में 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेंगे जो कि बहु विकल्पीय होंगे ।जिला शिक्षा विभाग के सूत्रों के अनुसार एनटीए द्वारा आयोजित करवाई जा रही परीक्षा में 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेंगे ।जो कि बहु विकल्पीय होंगे। प्रत्येक प्रश्न में 4 संभावित उत्तर विकल्प होंगे। उम्मीदवार को उन विकल्पों में से किसी एक को चिह्नित करना होगा। जिसे वह सही या सबसे उपयुक्त उत्तर मानता है। इसमें 30 अंक गणित के, 25 अंक विज्ञान विषय के लिए, 20 अंक सामान्य जागरूकता व ज्ञान संबंधित और 25 अंक सामाजिक विज्ञान के लिए आवंटित किए गए हैं। प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक के हिसाब से कुल 100 अंकों का पेपर रहेगा।

आवेदन प्रक्रिया के बाद तय होंगे परीक्षा केंद्र .....

प्रधानमंत्री यशस्वी योजना के तहत होने वाली परीक्षा के लिए फिलहाल फार्म भरे जा रहे हैं। परीक्षा की तारीख भी तय हो गई है।लेकिन कितने परीक्षा केंद्र और कहां होंगे अभी यह तय नहीं है। जिला शिक्षा विभाग के आला अफसरों का कहना है कि आवेदन प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद ही पता चलेगा। फिलहाल इस संबंध में अधिकृत पत्र नहीं आया है।