यूजीसी ने तय की समय-सीमा छात्रों ने प्रवेश निरस्त कराया तो कॉलेजों को लौटानी होगी पूरी फीस 30 सितंबर तक दाखिला लेने पर मिलेगी पूरी फीस, 31 अक्टूबर तक लिया तो कटेंगे एक हजार रुपए यह भी जानिए.....

यूजीसी ने तय की समय-सीमा छात्रों ने प्रवेश निरस्त कराया तो कॉलेजों को लौटानी होगी पूरी फीस 30 सितंबर तक दाखिला लेने पर मिलेगी पूरी फीस, 31 अक्टूबर तक लिया तो कटेंगे एक हजार रुपए    यह भी जानिए.....

रायसेन।छात्र छात्राओं द्वारा कॉलेज में एडमिशन निरस्त कराने या दाखिला न होने पर संबंधित कॉलेज को उनकी पूरी फीस लौटानी होगी। विश्व विद्यालय अनुदान आयोग ने इसके लिए सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के लिए गाइडलाइन जारी की है।

यूजीसी उच्चशिक्षण संस्थानों को शैक्षणिक सत्र 2023- 24 के लिए फीस रिफंड पॉलिसी का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। यूजीसी की गाइडलाइन अनुसार 30 सितंबर तक एडमिशन वापस लेने वाले छात्रों को पूरी फीस वापस करना होगी और 31 अक्टूबर तक दाखिला वापस लेने वाले छात्रों की एक हजार रुपए की कटौती के साथ फीस लौटाई जाएगी।

दरअसल, बहुत से छात्र सीईटी का रिजल्ट घोषित होने के बाद विवि में यूजी, पीजी सहित अन्य कोर्स में प्रवेश लेंगे। इसके पूर्व कई छात्र कॉलेजों में प्रवेश ले भी चुके हैं। ऐसे में पहले से लिए गए एडमिशन की फीस को लेकर समस्या आती है। यूजीसी ने स्पष्ट किया है कि, छात्रों और अभिभावकों से यह शिकायत मिलती है कि, एडमिशन न लेने पर कॉलेज फीस वापस नहीं करते। संस्थानों को निर्देशित किया है कि, उन सभी छात्रों की फीस पूरी तरह वापस करें। जिसने अपना कोर्स बदलकर दूसरे कोर्स को चुना है। इस प्रक्रिया में 31 अक्टूबर तक कोई भी संस्थान एक हजार रुपए से ज्यादा कटौती नहीं कर सकता है।

सर्टिफिकेट नहीं रखने का भी किया प्रावधान....

छात्रों को प्रवेश एक संस्थान से दूसरे संस्थान में स्थानांतरित करने में सुविधा देने के लिए यूजीसी ने फीस वापसी और मूल प्रमाण- पत्र न रखने का भी प्रावधान किया है। इसके अलावा यूजीसी ने शैक्षणिक सत्र 2023- 24 में प्रवेश वापस लेने वाले छात्रों की किसी भी शिकायत का निवारण करने के लिए उच्च शिक्षण संस्थानों को भी निर्देशित किया है।

एडमिशन की औपचारिक रूप से नोटिफाइड समय-सीमा से 15 दिन या उससे पहले प्रवेश कैंसिल कराने पर एक संस्थान से 100 फीसदी फीस वापस होगी।

कितने दिन में होगी फीस वापस. ...

90 प्रतिशत प्रवेश की औपचारिक रू पसे अधिसूचत अंतिम तिथि से 15 दिन पहले

80 प्रतिशत प्रवेश की औपचारिक रूप से अधिसूचित अंतिम तिथि के 15 दिन या इससे कम।

50 प्रतिशत 30 दिन या उससे कम, लेकिन प्रवेश की औपचारिक रूप से अधिसूचित समय सीमा के 15 दिन से अधिक होने पर।

शून्य प्रवेश की अधिसूचित का समय 30 दिन तय किया है।