सीजनल इन्फ्लूएंजा के वैरिएंट की रोकथाम के लिए एडवाइजरी जारी की

सीजनल इन्फ्लूएंजा के वैरिएंट की रोकथाम के लिए एडवाइजरी जारी की

रायसेन।जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा सीजनल इन्फ्लूएंजा के वैरिएंट की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए एडवाइजरी जारी की 

रायसेन।जिला स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि जारी दिशा निर्देश अनुसार इन्फ्लूएंजा एक मौसमी संक्रमण है, वर्तमान में मौसम की स्थिति एवं व्यवहार संबंधी कारणों व्यक्तिगत स्वच्छता पर पर्याप्त ध्यान न देना, सामाजिक दूरी का ध्यान न रखते हुए सुरक्षा के बिना छींकना और खांसना, इनडोर सभाओं का आयोजन इन्फ्लूएंजा-ए एच1एन1 एन 3 एन 2 एडेनोवायरस से फैलने वाले संक्रमण के लिए वातावरण अनुकूल बनाते है।

स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री जिला अस्पताल रायसेन के सिविल सर्जन डॉ अनिल ओड ने बताया कि सीजनल इन्फ्लूएंजा की शंका होने पर तत्काल जांच कराई जाये तथा भारत सरकार द्वारा जारी प्रोटोकॉल, गाइडलाइन का पालन किया जाए। छोटे बच्चे, बूढ़े व्यक्ति एवं गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति विशेष रूप से एडेनवायरस ग्रसित व्यक्ति सतर्क रहें। लक्षणों के संबंध में बताया गया कि आमतौर पर बुखार, खांसी एवं तीव्र श्वसन के साथ संक्रमण प्रकट करने वाली स्वयं सीमित बीमारी का करण बनते हैं।

ये मरीज रहें सावधान....

कुछ मामलों में मोटापे से ग्रसित लोग, गर्भवती महिलाएं, इन बीमारियों के अधिक गंभीर रूप से पीड़ित हो सकती है। जिन्हें अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता होती है। खांसते एवं छींकते समय अपने मुंह और नाक को एक टिशू पेपर, कोहनी से ढंकना, सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से बचना, भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में मास्क का उपयोग कर एवं बार-बार हाथ धोना आवश्यक है।