बरसते पानी में त्रिपाल लगाकर शव का अंतिम संस्कार करने को मजबूर ,यह बड़े शर्म की बात,विकास की ढींगे हांकने वाली शिवराज सरकार और सिलवानी के भाजपा विधायक रामपाल सिंह ठाकुर के विस् क्षेत्र के सियरमऊ के मुक्तिधाम में टीन शेड नहीं, पहुंच मार्ग में कीचड़, दलदल की भरमार

बरसते पानी में त्रिपाल लगाकर शव का अंतिम संस्कार करने को मजबूर ,यह बड़े शर्म की बात,विकास की ढींगे हांकने वाली शिवराज सरकार और सिलवानी के भाजपा विधायक रामपाल सिंह ठाकुर के विस् क्षेत्र के सियरमऊ के मुक्तिधाम में टीन शेड नहीं, पहुंच मार्ग में कीचड़, दलदल की भरमार

रायसेन/सिलवानी। मृत्यु के शोक में डूबा हुआ परिवार आंखों में आंसू लिए अपने स्वजन के शव के अंतिम संस्कार के लिए बारिश रुकने का इंतजार करता रहा।पानी रुकने के बाद घर से शव की अंतिम यात्रा निकलती और रास्ते में पानी गिरने लगता है। रास्ते में कीचड़ दलदल से हटते बचाते मुक्तिधाम तक पहुंचता है। तो वहां भी झाड़ियां और कांटों और कीचड़ भरे रास्ते के बीच शव पर त्रिपाल ढांककर बमुश्किल शव का दाहसंस्कार संस्कार किया । 

बेटा अपने परिजन को मुख्याग्नि देने के लिए जाता है तेज बारिश शुरू हो जाती है। शोक में डूबे सिर जैसे ही ऊपर देखते हैं तो पता चलता है कि यहां पर शव का अंतिम संस्कार किया जा रहा है ।लेकिन मुक्तिधाम पर ऊपर टीनशेड ही नहीं है। किसी तरह सभी लोग लाठियों के सहारे तिरपाल लगाते हैं और फिर शव का अंतिम संस्कार करते हैं।

गीली जलाऊ लकड़ियों से बरसते पानी टीनशेड के अभाव में किस तरह शव का अंतिम संस्कार किया गया होगा। तमाम अव्यवस्थाओं की बेबसी का यह दृश्य था सिलवानी तहसील की राजमार्ग किनारे बसे ग्राम सियरमऊ का। प्राप्त जानकारी के अनुसार सियरमऊ में साहू परिवार में एक बुजुर्ग का देहांत हो गया था। उनका अंतिम संस्कार किया जाना था। अंतिम संस्कार के बीच बारिश होने लगी और यहां टीनशेड न होने की वजह से तिरपाल के नीचे शव का बमुश्किल अंतिम संस्कार करना पड़ा। शव जलने तक लोग लाठियों के सहारे तिरपाल को संभाले रहे।लेकिन बारिश का पानी लगातार बरसता रहा।ग्रामीणों के मुताबिक बरसात के मौसम में किसी की मृत्यु हो जाने पर काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जिसने भी वहां यह दृश्य देखा उसकी आंखों में क्रोध भर आया। ग्रामीणों ने बताया देखरेख के अभाव में मुक्तिधाम की भूमि पर सत्ताधारी सरकार से जुड़े रसूखदारों कब्जा हो गया है।वहीं ग्राम पंचायत द्वारा कोई कार्य नहीं कराया गया। इस संबंध में ग्राम पंचायत सियरमऊ के सचिव रमेश शाह को दो बार मोबाइल पर बात की पर कार्यालय नहीं पहुंचे। ग्रामीणों में मुक्तिधाम में टीनशेड, तार फेसिंग नहीं होने से रोष केहै और उन्होंने जल्द से जल्द यहां के मुक्तिधाम पर टीनशेड व अन्य सुविधाएं देने की मांग की है। जल्द व्यवस्थाएं नहीं होने पर ग्रामीणों ने आंदोलन की चेतावनी तक दी है।

ये बोले विपक्ष के नेता.....

कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष देवेंद्र पटेल, प्रदेश प्रतिनिधि कवींद्र रघुवंशी युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष विकास शर्मा कहते हैं प्रदेश की शिवराज सरकार के दावे कहते हैं कि सिलवानी बेगमगंज विस क्षेत्र में विकास की गंगा बह रही है।गांव गांव से लेकर कस्बों मंझरे टोलों में सड़कों का जाल बिछाया जा चुका है।उनका कहना है कि विकास तो उनके चहेते नेताओं जनप्रतिनिधियों का हुआ है।सिलवानी विधायक रामपाल सिंह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खाश बताए जाते हैं।तो फिर तहसील सिलवानी की ग्राम पंचायत सियरमऊ का मुक्तिधाम बगैर सड़क टीनशेड के क्यों है मुक्तिधाम विकास से अछूता क्यों रह गया।कहते हैं भाजपा की कथनी और करनी में काफी अंतर है।